हमारे बारे में

स्थापना उद्देश्य

महाविद्यालय की स्थापना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र के बालक-बालिकाओं को उच्च शिक्षा की समुचित व्यवस्था करना ग्रामीण क्षेत्र के इस विकास खण्ड में बालक-बालिकाओं की शिक्षा दीक्षा हेतु अनेक इण्टर कालेज है किन्तु उच्च शिक्षा हेतु कोई भी उचित शैक्षिक वातावरण का महाविद्यालय नही है, जिसके कारण अधिकांश छात्र छात्रायें उच्च शिक्षा प्राप्त कर बौद्धिक रूप से विकलांग हों जाते हैं | अत: बालक-बालिकाओं की शैक्षिक कठिनाईयों के समाधान हेतु शिक्षा प्रेमियों के सहयोग से महाविद्यालय की स्थापना की गई है |

हम महाविद्यालय द्वारा किए गये हर कार्य में सम्पूर्णता चाहते हैं साथ ही शिक्षा से माध्यम से अपने छात्र / छात्राओ के लिए सर्वोच्च परिणामो को प्राप्त करने के लिए कटिबद्ध हैं ! हम छात्र / छात्राओ के समक्ष आने वाली हर चुनौतिओ को उनके लिए लाभदायक अवसरों में बदलने के लिए प्रतिबद्ध हैं हम ऐसे उन हर लाभदायक अवसरों का उपयोग कर अपने छात्र / छात्राओ की प्रगति के साथ -साथ उनका सर्वागीण मानसिक , बौद्धिक एवं चारित्रिक विकास भी ऐसा , जहाँ वे मानवीय मूल्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता दे सके तथा दूसरे के लिए प्रेरणा स्त्रोत बने !

प्रवेश के समय साथ संलग्न करना अनिवर्य होगा!

(२) छात्रवृत्ति या फ़ीस प्रतिपूर्ति सम्बन्धी उपरोक्त नियमो में शासन के निर्देश पर परिवर्तन किया जा सकता हैं !

(३) जिनके माता - पिता अथवा अभिभावक शासकीय या अशासकीय या अशासकीय सेवा में हैं (विभागीय सक्षम अधिकारी ) द्वारा निर्गत आय प्रमाण पत्र ( छः माह से पुराना न हो ) संलंग्न करना होगा !

(४) छात्रवृत्ति / फ़ीस प्रतिपूर्ति आवेदन -पत्र प्रवेश लेने के साथ ही महाविद्यालय में जमा करे !

विलम्ब से जमा किये गये फॉर्मो पर विचार करना सम्भव नहीं होगा !

(५) छात्रवृत्ति / फ़ीस प्रतिपूर्ति सम्बन्धित आवेदन - पत्र समस्त संलग्नकों सहित दो प्रतियो में जमा करना हैं ! आवेदन -पत्र की एक प्रति विवरणिका में लगी हुयी हैं ! दिव्तीय प्रति के लिए आवेदन -पत्र की फ़ोटो प्रति का प्रयोग करे !

सूचना

  • Admissions

    Jan 23,2015